शनिवार, 16 मई 2020

इलाहाबाद उच्च न्यायालय का कहना है कि लाउडस्पीकर पर मस्जिदों से अज़ान नहीं, केवल मानवीय आवाज़ की अनुमती

इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने शुक्रवार (15 मई) को उत्तर प्रदेश के तीन जिलों गाजीपुर, हाथरस और फर्रुखाबाद में मस्जिदों से अज़ान पर प्रतिबंध के संबंध में दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए एक महत्वपूर्ण फैसला सुनाया। अदालत ने इन जिलों के जिलाधिकारियों के आदेश को रद्द कर दिया और लाउडस्पीकरों का उपयोग किए बिना मस्जिदों से मौखिक अज़ान की अनुमति दी।